DMLT में एडमिशन कैसे लें? डीएमएलटी कोर्स क्या हैं? जानें योग्यता, फीस

DMLT Course Detail in Hindi – क्या आप जानते हैं कि DMLT Corse Kaiya Hai, डीएमएलटी कोर्स की डिटेल में इनफॉरमेशन लेना चाहते हैं। मेडिकल लैब टेक्नीशियन के रूप में करियर कैसे बनाएं जानना चाहते हैं। मेडिकल क्षेत्र में बहुत सारे कोर्स उपलब्ध है। जिनके माध्यम से इस क्षेत्र में अपना करियर बनाया जा सकता है, इन सभी कोर्स में से डीएमएलटी कोर्स बेहद अहम माना जाता है?

वर्तमान समय में बहुत से विद्यार्थी DMLT Corse Me Admission Kaisa Le जानना चाहते हैं। और अपना करियर मेडिकल क्षेत्र में बनाना चाहते हैं। डिप्लोमा लैबोरेट्री टेक्नोलॉजी (DMLT), 2 वर्ष का डिप्लोमा कोर्स होता है। 12वीं में साइंस स्ट्रीम से किसी भी विषय से उत्तीर्ण विद्यार्थी इस कोर्स को कर सकते हैं। 

DMLT कोर्स में विभिन्न तरह की रोगों की जांच करने के लिए प्रशिक्षण दिया जाता है। वह उम्मीदवार जिसने कम से कम 55% अंकों के पास की है, वह विद्यार्थी भारत के किसी भी प्राइवेट या सरकारी कॉलेज में डीएमएलडी कोर्स के लिए आवेदन कर सकता है।   

इस कोर्स में पैथोलॉजी रुधिर विज्ञान, रसायन विज्ञान,

माइक्रोबायोलॉजी, बायो केमिस्ट्री, ब्लड बैंकिंग, जैसे विषय के बारे में आपको बारीकी से जानकारी उपलब्ध कराया जाता है और इसके बारे में तकनीकी कौशल भी आपको बताया जाता है।

डीएमएलटी का फुल फॉर्म क्या है?

डीएमएलडी का फुल फॉर्म Diploma in Medical Laboratory Technology होता है, जिसका हिंदी में मतलब डिप्लोमा इन मेडिकल लैबोरेट्री टेक्नोलॉजी होता है, इसे डिप्लोमा इन मेडिकल लैब टेक्नीशियन (Medical Lab Technician) भी कहा जाता है।

वहीं अगर बात किया जाए डीएमएलटी के फुल फॉर्म इन हिंदी के बारे में तो “चिकित्सा प्रयोगशाला प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा” होता है।

आसान भाषा में अगर DMLT की फुल फॉर्म को समझा जाए तो यह एक Diploma कोर्स है जिसमें चिकित्सा प्रयोगशाला में प्रयोग होने वाली टेक्नोलॉजी के बारे में शिक्षा प्रदान की जाती है।

DMLT कोर्स क्या हैं?

DMLT का विस्तृत नाम Diploma in Medical Laboratory Technology होता है। जिसे हिंदी में “चिकित्सा प्रयोगशाला प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा” कहते है, यह कोर्स Paramedical क्षेत्र का  Diploma Course हैं।

डीएमएलटी कोर्स में आपको अलग-अलग उपकरणों के माध्यम से रोगों-निदान के लिए लैब में ब्लड जाँच, x-ray यूरिन जांच, जैसे कई परीक्षण के बारे में बताया जाता हैं। इसके साथ ही पाठ्यक्रम के माध्यम से छात्र-छात्रा चिकित्सा उपकरणों का उपयोग करना। डॉक्टर द्वारा निर्देशित टेस्ट करना, उपकरणों का सही तरीके से देखभाल करना सिखाया जाता हैं।

जबकि चिकित्सा क्षेत्र में DMLT कोर्स लैब टेक्नीशियन बनने के लिए एक Diploma कोर्स है। वैसे भी मेडिकल लैब टेक्नीशियनाे के लिए सर्टिफिकेट कोर्स और BMLT कोर्स जैसे स्नातक डिग्री है।

डीएमएलडी कोर्स की पढ़ाई पूरा करने के बाद 6 महीने के अस्पताल की अनुभव के लिए अप्रेंटिस ट्रेनिंग करना होता है। जिससे विद्यार्थियों को रोगी की जांच करने का अनुभव होता है।

डीएमएलटी कोर्स करने के लिए योग्यता?

CourseEligibilityDuration
DMLTSr. Secondary (10+2) in PCM/PCMB with minimum 45% marks from recognized Board / University2 Year
For International StudentsThe eligibility criterion for all programs for international applicants is minimum 50% in the qualifying examination and having studied the pre-requisite subjects for admission in to the desired program.

1. डीएमएलटी कोर्स में एडमिशन के लिए विद्यार्थियों को सबसे  पहले 12वीं में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषयों के साथ पास करना होता है। 

2. कुछ कॉलेज या महाविद्यालय ऐसे भी हैं जों फिजिक्स केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स से पास विद्यार्थियों को डीएमएलटी पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए पात्र मानते हैं।

3. लेकिन ध्यान दे कि आपके पास 12वीं कक्षा में फिजिक्स केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषयों में कम से कम 55% से 60% अंक होने चाहिए।

4. डीएमएलटी कोर्स में एडमिशन के लिए प्रवेश परीक्षा माध्यम से या फिर 12वीं क्लास में प्राप्त अंकों के आधार पर ले सकते हैं।

यदि आप सभी ऊपर दी गई योग्यताओं को पूरा करते हैं तो आप बहुत आसानी से DMLT Course में एडमिशन ले सकते हैं, अब हम आपको बताते हैं डीएमएलटी कोर्स के लिए एडमिशन कैसे लिया जा सकता है।

DMLT कोर्स के लिए एडमिशन कैसे लें? 

यदि आप डीएमएलटी कोर्स में एडमिशन लेने के लिए मन बना चुके हैं और एडमिशन लेना चाहते हैं तो आप इन दो तरीकों से एडमिशन ले सकते हैं। उसमें से पहला तरीका है प्रवेश परीक्षा देकर और दूसरा तरीका है डायरेक्ट ऐडमिशन लेना। यदि आप डायरेक्ट एडमिशन लेना चाहते हैं तो आपको किसी कॉलेज में जाकर संपर्क करना होगा।

लेकिन आपको इस बात का भी ध्यान रखना है कि डायरेक्ट एडमिशन में आपको कॉलेज फीस ज्यादा देना पड़ सकता है लेकिन यदि आप प्रवेश परीक्षा द्वारा एडमिशन लेना चाहते हैं। तो उसके लिए हम आपको नीचे चरणबद्ध तरीके से जानकारी नीचे दे रहे हैं।

Step 1. यदि आप प्रवेश परीक्षा देना चाहते हैं तो प्रवेश परीक्षा के लिए सबसे पहले आपको DMLT एंट्रेंस एग्जाम के आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करना होगा होगा।

DMLT admission portal

Step 2. रजिस्ट्रेशन करने के बाद आपको पासवर्ड और आईडी मिल जाएगा। आपको उसी पासवर्ड और आईडी से फिर से वेबसाइट दोबारा पर लॉगिन करें।

login to dmlt account

Step 3. इसके बाद आपको अपना नाम, शैक्षणिक योग्यता एवं सभी डिटेल डालकर अप्लाई कर दें.

Step 4. एप्लीकेशन सबमिट करने के बाद आप उस एप्लीकेशन का एक प्रिंटआउट निकाल कर रख लें। समय-समय पर उस वेबसाइट पर विजिट करके जानकारी जरूर प्राप्त करते रहें।

DMLT कोर्स का एडमिशन शुल्क कितना होता हैं?

Fee componentsAmount (2 years)
Tuition Fees The mentioned fees is as per AFRC UP.₹ 50,000
Total fee₹ 50,000

DMLT कोर्स करने से पहले आप सभी के मन में एक प्रश्न जरूर उठना होगा, कि आखिर डीएमएलटी कोर्स करने के लिए एडमिशन फीस कितना लगता है। तो एडमिशन फीस पूरी तरह से अलग-अलग कॉलेज पर निर्भर करता है। जैसा कि प्राइवेट और सरकारी कॉलेज की फीस अलग-अलग होता है।

यदि हम गवर्नमेंट कॉलेज की फीस की बात किया जाए तो लगभग 30 हज़ार रुपए से 60 हज़ार रुपए हो सकता है। लेकिन वही हम प्राइवेट कॉलेज के फीस की बात करें तो 1 लाख रुपए से लेकर ₹4 लाख रुपए तक हो सकता है, आपको यह भी बात जान लेना चाहिए कि प्राइवेट कॉलेज का फीस का कोई स्ट्रक्चर निर्धारित नहीं होता है, सभी कॉलेज अपने हिसाब से फीस लेते हैं।

DMLT कोर्स का सिलेबस क्या हैं?

DMLT कोर्स करने से पहले आपको डीएमएलटी कोर्स का Syllabus क्या रहता है यह जानना जरूरी है ताकि बाद में आपको किसी तरह की कोई दिक्कत का सामना न करना पड़े। तो चलिए नीचे हम आपको डीएमएलटी के सिलेबस के बारे में बताते हैं।

1st Year DMLT Syllabus

1. क्लीनिक पैथोलॉजी

2. हेमेटोलॉजी 

3. बायोकेमेस्ट्री 

4. जनरल बक्टरोलॉजी

5. इम्मुनोलॉजी एवं सिरोलॉजी

6. सिस्टेमेटिक बक्टरोलॉजी

2nd Year DMLT Syllabus

1. हिस्टोपैथोलॉजी

2. ब्लड बैंकिंग 

3. क्लीनिक माइक्रोबायोलॉजी

4. इम्मुनोलॉजी एवं सिरोलॉजी

5. वायरोलॉजी

6. बायोकेमेस्ट्री

7. एनिमल केयर 

8. माइक्रोलॉजिक

9. परैयटोलॉजी

10. साईटोपोथोलॉजी

DMLT कोर्स करने के लिए भारत के टॉप कॉलेज? 

जाहिर सी बात है अगर आप डीएमएलटी कोर्स करना चाहते हैं तो एक अच्छे कॉलेज में ही एडमिशन लेना चाहेंगे।

आपको एडमिशन लेने से पहले पता होना चाहिए कि भारत के टॉप कॉलेजेस कौन से हैं। तो चलिए हम नीचे बेस्ट Collage के लिस्ट के बारे में बताएंगे। 

1. बांकुरा सम्मिलानी मेडिकल कॉलेज, बांकुरा, पश्चिम बंगाल

2. सरदार पटेल विश्वविद्यालय, वल्लभ विद्यानगर, गुजरात

3. राजीव गांधी कॉलेज, भोपाल, मध्य प्रदेश

4. सरकारी मेडिकल कॉलेज, अमृतसर, पंजाब

5. माधव विश्वविद्यालय, सिरोही, राजस्थान

6. मदुरै मेडिकल कॉलेज, मदुरै, तमिलनाडु

7. तीर्थंकर महावीर विश्वविद्यालय, मोरादाबाद, उत्तर प्रदेश

8. मेवाड़ विश्वविद्यालय, चित्तौड़गढ़, राजस्थान

9. नालंदा मेडिकल कॉलेज, पटना, बिहार

10. जवाहरलाल मेडिकल कॉलेज, भागलपुर, बिहार

DMLT कोर्स करने के बाद आप कौन सी नौकरी कर सकते हैं?

DMLT कोर्स करने के बाद आपके सामने नौकरी के कई क्षेत्र खुल जाते हैं। जहां से आप अपने करियर को आगे बढ़ा सकते हैं आप किसी भी क्षेत्र में काम कर सकते हैं। तो चलिए हम आपको नीचे कुछ ऐसी नौकरियां के बारे में बताते हैं जहां से आप नौकरी कर सकते हैं।

1. डीएमएलटी कोर्स करने के बाद आप किसी भी प्राइवेट हॉस्पिटल में लैब टेक्नीशियन का काम कर सकते हैं।

2. आप अपना खुद का डायग्नोसिस सेंटर शुरू कर सकते हैं।

3. आप ब्लड कैंप और ब्लड बैंक में भी काम कर सकते हैं।

4. आप किसी भी सरकारी अस्पताल में लैब टेक्नीशियन का काम भी कर सकते हैं।

5. भारत में ऐसी कई बड़ी कंपनियां हैं, जों लैब टेक्नीशियन की वैकेंसी निकालती है आप इस वैकेंसी में अप्लाई करके भी नौकरी हासिल कर सकते हैं।

DMLT कोर्स करने के बाद सैलरी कितना मिलता है? 

डीएमएलडी कोर्स करने के बाद आपको एक अच्छी सैलरी मिलती है। आप डीएमएलडी कोर्स करने के बाद आप किसी भी सरकारी कंपनियां या सरकारी अस्पताल में नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। आपको शुरुआत में ही 25 हज़ार रुपए से लेकर 30 हज़ार तक प्रति महीने की सैलरी मिल जाती है।

वही आप किसी प्राइवेट कंपनी में नौकरी प्राप्त करते हैं तो शुरुआत में 15 हज़ार रुपए से लेकर 20 हज़ार तक प्रति महीने की सैलरी आसानी से मिल जाती है। आप इस फील्ड में अच्छा अनुभव प्राप्त कर लेते हैं तो आपको अनुभव के अनुसार सैलरी दिया जाता हैं।

Read More:

ANM Course Details in Hindi

BPSC सिलेबस और एग्जाम पैटर्न in Hindi

Leave a Comment