BAF में Admission कैसे ले? फीस, योग्यता

BAF में Admission कैसे ले? BAF करने के लिए कितने पैसे लगते है? ऐसे बहुत सारे तरह के सवाल होते है. जब हम 12वी के बाद कॉमर्स में किसी कोर्स के बारे में सोचते है. ऐसे में यहाँ पर पूरी जानकारी दिया है. BAF कैसे करे? इसके लिए साल का कितना फीस चाहिए और इंडिया में BAF करने के लिए बेस्ट Colleges कौन कौन से है?

12वी commerce करने के बाद ज्यादतर स्टूडेंट्स केवल बीकॉम करने का सोचते है. क्योकि ज्यादातर लोगो को लगता है की कॉमर्स में पढ़ाई करने वाले लोगो के लिए बस बीकॉम ही एक माध्यम है. लेकिन ऐसा नहीं है 12वी commerce करने वाले स्टूडेंट्स के लिए बहुत सारे कोर्सेज है. जिसमे से एक BAF जिसका मतलब होता है Bachelor of Accountancy and Finance.

BAF क्या है और BAF क्यों करना चाहिए?

BAF me Admission Kaise le? इसके बारे में जानकारी हासिल करने से पहले ये जानना बहुत जरुरी है, की BAF क्या है? क्योकि इसी से जानकारी मिलेगा 12वी के ये कोर्स आपके लिए सही या नहीं.

BAF एक बैचलर डिग्री है, जो की 3 साल में पूरा किया जा सकता है. जैसे की दूसरे बैचलर डिग्री होते है Bsc और Bcom. इस अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम में फाइनेंस और Accountancy के बारे में पढ़ाया जाता है, जिसमे शामिल है taxation, auditing, financial management, risk management, managerial economic.

BAF एक अहम् कोर्स है, जिसको हाल ही में बनाया गया है. ताकि इंडस्ट्रीज के डिमांड को देखते हुए, ऐसे Tax और Finance के Expert बनाये जा सके. जैसा की फाइनेंस में बहुत सारे अहम् कोर्सेज है, जिसमे से BAF Course India में टॉप 5 में अपना स्थान रखता है. जो भी स्टूडेंट 12वी की पढ़ाई करने के बाद पर्सनल फाइनेंस, एकाउंटिंग और टैक्स जैसे फील्ड में जाना चाहते है. उनके लिए BAF में Admission लेना एक सही फैसला हो सकता है.

Also Read: DMLT में एडमिशन कैसे लें?

BAF Full Form in Hindi

BAF का Full Form “Bachelor of Accountancy and Finance” होता है.

BAF Me Admission Kaise Le Short Overview

आर्टिकलBAF Me Admission Kaise Le
कोर्स की अवधि3 वर्ष
BAF Full FormBachelor of Accountancy and Finance
कोर्स की फीस20,000 – 150,000 रूपये (यूनिवर्सिटी के अनुसार)
औसत वेतन3 से 8 लाख रुपए (प्रति वर्ष)
एंट्रेंस एग्जामNMIMS NPAT, IPU CET, SET, CUET
टॉप कॉलेजShri Ram College of Commerce, Hindu College, Gujarat University, Stella Maris College etc.

BAF के लिए योग्यता | BAF ke Liye Eligibility in Hindi

College और Entrance Exam इंस्टिट्यूट द्वारा योग्यता निर्धारित किया गया है. अगर कोई स्टूडेंट 12वी के बाद BAF Course करना चाहता है, तो उसको इन मापदंडो से गुजरना होगा.

  • BAF कोर्स में केवल वही अप्लाई कर सकते है, जिन्होंने इंडिया के किसी भी बोर्ड से 12वी की परीक्षा पास की हो.
  • Bachelor of Accountancy and Finance कोर्स के लिए कम से कम 50% या उससे अधिक मार्क्स होने चाहिए 12वी की परीक्षा में.
  • कैंडिडेट को Entrance एग्जाम पास होगा BAF में Admission लेने के लिए.
  • कैंडिडेट के पास इनमे mathematics, economics or Accounts से कोई एक सब्जेक्ट होना चाहिए.
  • कैंडिडेट की उम्र कम से कम 17 साल और मैक्सिमम 25 साल होना चाहिए.

यदि स्टूडेंट ऊपर दिए योग्यता को पास करता है, उसके बाद वो BAF course में admission लेने के लिए योग्य हो जाता है.

BAF की फीस कितनी है | BAF ki fees kitni hai?

BAF Me Admission Kaise Le रहे है, तो इस कोर्स में फीस कितनी लगेगी ये जानना बहुत जरुरी है. इंडिया के सभी टॉप कॉलेज के फीस को रिसर्च करने के बाद ये जानकारी मिला की 20,000 – 150,000 रूपये कोर्स का फीस होगा। यहाँ पर अलग अलग कॉलेज के फीस उनके लोकेशन और रैंकिंग के हिसाब से अलग-अलग है. इसलिए यहाँ पर टॉप कॉलेज के फीस के बारे में जानकारी दिया है.

कॉलेज का नामऔसत वार्षिक शुल्क (₹)
श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स45,000
नरसी मोनजी कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड इकोनॉमिक्स11,000
गुजरात यूनिवर्सिटी5,000
एच.बी. संचार एवं प्रबंधन संस्थान70,000
एच.ए कॉलेज ऑफ कॉमर्स70,000
हिंदू कॉलेज16,750
स्टेला मैरिस कॉलेज92,000
मानसरोवर ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस50,000
सेंट अलॉयसियस इवनिंग कॉलेज40,000
टेरेशियन कॉलेज60,000

Also Read: AIIMS में Admission कैसे ले ?

BAF में Admission कैसे ले | BAF Me Admission Kaise Le

BAF Me Admission Kaise Le

BAF में एडमिशन लेने के कई चरण है, अगर कोई स्टूडेंट BAF अंडरग्रेजुएट कोर्स करना चाहता है. उसके लिए यहाँ पर दिए गए सभी स्टेप्स को पूरा करना होगा.

स्टेप 1. स्टूडेंट को सबसे पहले 12वी की परीक्षा पास करना होगा कम से कम 50% मार्क्स से और जिसमे मैथमेटिक्स, इकोनॉमिक्स या फिर एकाउंटिंग सब्जेक्ट शामिल होना चाहिए। क्योकि यह कोर्स के सबसे जरुरी है.

स्टेप 2. 12वी पास करने के बाद स्टूडेंट को NMIMS NPAT, IPU CET, SET, CUET में से किसी एक एग्जाम के लिए रजिस्ट्रेशन करना होगा। क्योकि इन्ही के कटऑफ के आधार पर एडमिशन मिलेगा.

स्टेप 3. एंट्रेंस एग्जाम पास करने के बाद जब कटऑफ मेरिट लिस्ट निकलेगी तो उसी आधार पर स्टूडेंट को कॉलेज में एडमिशन मिलना संभव होगा। एग्जाम रिजल्ट आने के बाद काउंसलिंग के लिए रजिस्टर करे.

स्टेप 4. काउंसलिंग के बाद जो भी स्कूल मिला, उसमे तय समय में जाकर फीस जमा करे और अपने एडमिशन प्रकिया को पूरा करे.

Also Read: क्या B.Sc. के बाद IIT में Admission मिलता है?

BAF Top College in India

यहाँ पर कुछ टॉप कॉलेज के नाम दिया है, ऐसे में कोशिश करे की इस अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम के लिए इन्ही में किसी कॉलेज में एडमिशन मिल सके. ताकि पढ़ाई पूरा करने के बाद आपको अच्छे कंपनी में जॉब मिल सके.

  1. श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स
  2. नरसी मोनजी कॉलेज ऑफ कॉमर्स एंड इकोनॉमिक्स
  3. गुजरात विश्वविद्यालय
  4. एच. बी. इंस्टीट्यूट ऑफ कम्युनिकेशन एंड मैनेजमेंट
  5. एच.ए. वाणिज्य महाविद्यालय
  6. हिंदू कॉलेज
  7. स्टेला मैरिस कॉलेज
  8. मानसरोवर ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्यूशंस

BAF कौन – कौन से विषय में की जाती है?

सेमेस्टर I

  • Foundational Cost Accounting-I
  • Business Environment
  • Micro-Economics
  • Foundation Course-I (Commercial Environment)
  • Financial Accounting-I
  • Business Communication-I

सेमेस्टर II

  • Business Communication-II
  • Special Accounting Areas-I
  • Financial Accounting-II
  • Business Regulatory Framework-I
  • Indirect Taxation-I
  • Quantitative Methods for Business-I

सेमेस्टर III

  • Macro Economics
  • Methods of Cost Accounting-II
  • Techniques of Auditing and Audit Procedures
  • Special Accounting Areas-II
  • Business Regulatory Framework-II
  • Introduction to Management
  • Quantitative Methods for Business-II

सेमेस्टर IV

  • Special Accounting Areas-III
  • Financial Market Operations
  • Information Technology Application in Business
  • Indirect Taxation-II
  • Foundation Course-II (Value Education and Soft Skill)
  • Company Law
  • Financial Accounting-IV

सेमेस्टर V

  • Financial Accounting-V
  • Cost Accounting-III
  • Financial Statement Analysis
  • Direct & Indirect Taxation-III
  • Indian Economy System
  • Project Work
  • Financial Accounting-VI
  • Elective-I

सेमेस्टर VI

  • Financial Accounting-VII
  • Cost Accounting-IV
  • Financial Accounting-VIII
  • Direct & Indirect Taxation-IV
  • Elective-II
  • Internship/Project Work-II

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

BAF कोर्स क्या है?

BAF (Bachelor of Accounting and Finance) एक स्नातक स्तर का कोर्स है जो छात्रों को लेखा और वित्त के विभिन्न पहलुओं में विशेषज्ञता प्रदान करता है। इसमें वित्तीय लेखा, लागत लेखा, वित्तीय प्रबंधन, टैक्सेशन, ऑडिटिंग, और अन्य संबंधित विषय शामिल होते हैं

BAF कोर्स की अवधि क्या होती है?

BAF कोर्स की अवधि तीन साल होती है, जिसे छह सेमेस्टर में विभाजित किया जाता है। हर सेमेस्टर में विभिन्न विषयों को कवर किया जाता है और छात्रों को थ्योरी के साथ-साथ प्रैक्टिकल ज्ञान भी प्रदान किया जाता है।

BAF कोर्स के लिए योग्यता क्या है?

BAF कोर्स में प्रवेश पाने के लिए उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा (HSC) उत्तीर्ण होना चाहिए। कुछ कॉलेज प्रवेश परीक्षा या मेरिट के आधार पर भी प्रवेश प्रदान करते हैं।

BAF कोर्स के बाद करियर विकल्प क्या हैं?

BAF कोर्स पूरा करने के बाद छात्र विभिन्न क्षेत्रों में करियर बना सकते हैं जैसे कि चार्टर्ड अकाउंटेंसी (CA), कंपनी सेक्रेटरी (CS), वित्तीय विश्लेषक, लेखा अधिकारी, बैंकिंग और वित्तीय सेवाओं में नौकरियां, और अन्य वित्तीय प्रबंधन संबंधित भूमिकाएं।

BAF कोर्स की औसत फीस क्या होती है?

BAF कोर्स की फीस कॉलेज और विश्वविद्यालय के आधार पर भिन्न हो सकती है। सामान्यत: यह 10,000 रुपये से लेकर 1,00,000 रुपये प्रति वर्ष तक हो सकती है। सरकारी कॉलेजों में फीस कम होती है जबकि निजी संस्थानों में यह अधिक हो सकती है।

Leave a Comment