क्या B.Sc. के बाद IIT में Admission मिलता है? पूरी जानकारी

Hello दोस्तों क्या आपका भी सपना है B.Sc के बाद IIT में M.Sc करने का? और आप जानना चाहते हैं कि IIT JAM क्या है? Eligibility से लेकर एडमिशन तक की step by step पूरी जानकारी के साथ साथ IIT JAM की तैयारी कैसे करें? इत्यादि महत्वपूर्ण जानकारियों को इस पोस्ट में विस्तार से बताया गया है।

B.Sc के बाद आईआईटी में M.Sc करना एक बहुत ही अच्छा विकल्प है, जो आपको अपने कैरियर में बहुत सारी संभावनाएं देता है। IITs (Indian Institutes of Technology) भारत के सर्वोत्तम इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी संस्थान हैं, जो पूरी दुनिया में मान्यता प्राप्त हैं।

IITs में M.Sc करने के लिए आपको कुछ eligibility criteria, entrance exam (IIT JAM) और counseling process को follow करना पड़ता है. इस article में हम आपको in सभी topics पर detail में बताएंगे.

M.Sc in IIT After B.Sc : IIT JAM Details

B.Sc के बाद IIT में एडमिशन कैसे लें? IIT में M.Sc हेतु जाने IIT JAM क्या है

आईआईटी (Indian Institute of Technology) भारत के सर्वश्रेष्ठ और प्रतिष्ठित संस्थानों में से एक है, जो विभिन्न पाठ्यक्रमों में उच्च स्तरीय शिक्षा प्रदान करता है। आईआईटी में प्रवेश पाना हर विद्यार्थी का सपना होता है, लेकिन इसके लिए उन्हें कड़ी मेहनत और प्रतिभा की जरूरत होती है।

आमतौर पर, आईआईटी में प्रवेश के लिए JEE (Joint Entrance Examination) को मान्यता प्राप्त है, जो 12वीं कक्षा के बाद B.Tech (Bachelor of Technology) पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए संचालित की जाती है। JEE को JEE Main और JEE Advanced के रूप में दो स्तरों में संपन्न किया जाता है, जहां JEE Main NTA (National Testing Agency) द्वारा, और JEE Advanced IITs (Indian Institutes of Technology) के सहयोग से, संचालित किया जाता है।

लेकिन, क्या आपको पता है कि B.Sc (Bachelor of Science) के बाद IIT में M.Sc (Master of Science) प्रोग्राम में प्रवेश पाने के लिए JEE Score की ज़रुरत नहीं होती है? हाँ, आपने सही पढ़ा! B.Sc. पास-आउट स्टूडेंट्स IITs में M.Sc. प्रोग्राम में प्रवेश पाने के लिए JAM (Joint Admission Test for Masters) प्रवेश परीक्षा (Entrance Exams) को क्वालीफाई करना होता है।

आईआईटी JAM क्या है | IIT JAM kya hai

JAM परीक्षा का फुल फॉर्म Joint Admission Test for Masters अर्थात JAM M.Sc के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा है। ये एक राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा है जो आईआईटी और आईआईएससी में पीजी पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश देती है। JAM परीक्षा हर साल फरवरी में आयोजित की जाती है।

IIT JAM एक ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा है, जिसमें सात विषयों में से एक या दो के लिए उम्मीदवार पंजीकरण कर सकते हैं। इन विषयों में Biotechnology (BT), Chemistry (CY), Economics (EN), Geology (GG), Mathematics (MA), Mathematical Statistics (MS), and Physics (PH) शामिल हैं।

JAM का मुख्य उद्देश्य IITs में M.Sc., M.Sc. (Tech.), MS (Research), M.Sc. – M.Tech. Dual Degree, Joint M.Sc. – Ph.D., and M.Sc. – Ph.D. Dual Degree प्रोग्रामों में प्रवेश प्रदान करना है।

Total Seats: आईआईटी में विभिन्न स्नातकोत्तर [Post Graduate] कार्यक्रमों में लगभग 3000 सीटों पर सीधे प्रवेश।

IIT JAM 2024



IIT JAM 2024: JAM 2024 की परीक्षा 11 February 2024 को होगी। JAM 2024 के लिए पंजीकरण 5 September 2023 से 13 October 2023 तक JOAPS (JAM Online Application Processing System) के माध्यम से किया जा सकता है। JAM 2024 का परिणाम 20 March 2024 को घोषित किया जाएगा।

IIT में M.Sc. प्रोग्रामों की सूची | list of IITs for M.Sc Programs

IITs में JAM Score के आधार पर निम्नलिखित M.Sc. प्रोग्रामों में प्रवेश मिलता है:

  • IIT Bhilai: M.Sc. in Chemistry, Mathematics and Computing, Physics
  • IIT Bhubaneswar: Joint M.Sc.-Ph.D. in Chemistry, Geology, Mathematics, Physics
  • IIT Bombay: M.Sc. in Applied Geology, Applied Geophysics, Applied Statistics and Informatics, Biotechnology, Chemistry, Mathematics, Physics; M.Sc.-Ph.D. Dual Degree in Environmental Science,Cognitive Science, Economics, Physics; M.Sc.-Ph.D. Dual Degree in Physics
  • IIT Kharagpur: Joint M.Sc.-Ph.D. in Chemistry, Geology, Geophysics, Mathematics, Physics
  • IIT Madras: M.Sc. in Chemistry, Mathematics, Physics
  • IIT Mandi: M.Sc. in Applied Mathematics
  • IIT Palakkad: M.Sc. in Chemistry, Mathematics, Physics
  • IIT Patna: M.Sc. in Chemistry, Mathematics, Physics
  • IIT Roorkee: M.Sc. in Applied Geology, Biotechnology, Chemistry, Economics, Mathematics/Applied Mathematics/Industrial Mathematics and Informatics/Industrial Mathematics and Computing/Statistics and Data Analytics (SDA), Physics; M.Sc.-M.Tech. Dual Degree in Geological Technology
  • IIT Ropar: M.Sc. in Chemistry, Mathematics/Applied Mathematics/Industrial and Applied Mathematics/Statistics and Scientific Computing/Statistics/Master of Science (2-Year) Programme in Statistics and Data Analytics (MSDA), Physics
  • IIT Tirupati: M.Sc. in Chemistry, Mathematics and Statistics, Physics

IIT से M.Sc. लिए योग्यता | IIT JAM Eaxm ke liye Eligibility Criteria

IITs में M.Sc. प्रोग्रामों के लिए प्रवेश पाने के लिए उम्मीदवारों को निम्नलिखित योग्यता को पूरा करना होगा:

  • उम्मीदवारों को JAM 2024 की परीक्षा में सम्बंधित विषय में कम से कम 55% (General/OBC-NCL/EWS Category) या कम से कम 50% (SC/ST/PwD Category) अंक प्राप्त करने होंगे।
  • उम्मीदवारों को B.Sc. या समकक्ष पाठ्यक्रम में कम से कम 55% (General/OBC-NCL/EWS Category) या कम से कम 50% (SC/ST/PwD Category) अंक प्राप्त करने होंगे।
  • उम्मीदवारों का B.Sc. पाठ्यक्रम निरंतर (appearing) और पूर्णकालिक (complete) होना चाहिए।
  • उम्मीदवारों का B.Sc. पाठ्यक्रम 3 साल या 6 सेमेस्टर का होना चाहिए।
  • उम्मीदवारों का B.Sc. पाठ्यक्रम संस्था/संघ/सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त होना चाहिए।
  • उम्मीदवारों को B.Sc. पाठ्यक्रम में JAM 2024 के सम्बंधित विषय में प्रति सेमेस्टर 3 से 4 पूरक पत्र (Core Courses) होने चाहिए।
  • एप्लीकेंट को JAM प्रवेश परीक्षा में उचित रैंक हासिल होना चाहिए।

IIT में M.Sc. प्रोग्रामों के लिए प्रवेश प्रक्रिया

IITs में M.Sc. प्रोग्रामों के लिए प्रवेश प्रक्रिया JAM Score के आधार पर होती है। JAM Score के मुताबिक, IITs में विभिन्न M.Sc. प्रोग्रामों के लिए All India Rank (AIR) निर्धारित किया जाता है। इसके बाद निम्न स्टेप्स को फॉलो करना होता है:

  1. Choice Filling : AIR के आधार पर, उम्मीदवारों को JAM Online Application Processing System (JOAPS) के माध्यम से Choice Filling करना होता है। Choice Filling में, उम्मीदवारों को अपनी पसंद के अनुसार IITs में M.Sc. प्रोग्रामों की सूची में से 5 Choices चुनना होता है।
  2. Seat Allotment: Choice Filling के बाद, IITs में M.Sc. प्रोग्रामों के लिए Seat Allotment होता है। Seat Allotment में, उम्मीदवारों को JOAPS पर लॉगिन करके अपना Seat Allotment Letter डाउनलोड करना होता है। Seat Allotment Letter में, उम्मीदवारों को अपनी Allotted Institute और Allotted Programme का पता चलता है।
  3. Submit Fee : Seat Allotment Letter के साथ, उम्मीदवारों को Seat Acceptance Fee जमा करना होता है। Seat Acceptance Fee Rs. 10,000/- (General/OBC-NCL/EWS Category) या Rs. 5,000/- (SC/ST/PwD Category) होती है। Seat Acceptance Fee JOAPS के माध्यम से Online Mode में जमा की जाती है।
  4. Document Verification (D.V.) : Seat Acceptance Fee जमा करने के बाद, उम्मीदवारों को Document Verification के लिए Allotted Institute में पहुंचना होता है। Document Verification में, उम्मीदवारों को अपने Original Documents साथ में लेकर जाना होता है। Original Documents में, JAM Score Card, Seat Allotment Letter, Qualifying Degree Certificate/Provisional Certificate, Marks Sheet of Qualifying Degree, Category Certificate (if applicable), PwD Certificate (if applicable), EWS Certificate (if applicable), Photo ID Proof, Passport Size Photographs, etc. शामिल हैं।
  5. Final Admission Latter : Document Verification के समय, Allotted Institute में Admission Committee Eligibility Criteria की जाँच करती है। Eligibility Criteria पूरा करने पर, Admission Committee Final Admission Letter जारी करती है। Final Admission Letter में, Admission Committee Admission Fee की रकम, Payment Mode, Payment Deadline, इत्यादि की सूचना प्रदान करती है।
  6. Report to Institute and submit Final Admission Latter : Final Admission Letter प्राप्त करने के बाद, उम्मीदवारों को Admission Fee Allotted Institute में Online Mode/Offline Mode में जमा करनी होती है। Admission Fee Payment Receipt प्राप्त करने पर, Admission Process सम्पन्न होती है।

आईआईटी JAM [2024] का परीक्षा पैटर्न | IIT JAM Exam Pattern

IIT JAM 2024 की परीक्षा का पैटर्न निम्नलिखित है:

  • IIT JAM 2024 की परीक्षा ऑनलाइन मोड में होगी।
  • IIT JAM 2024 की परीक्षा 3 घंटे की होगी।
  • IIT JAM 2024 की परीक्षा में 60 प्रश्न होंगे, जो 3 सेक्शन में बांटे जाएंगे।
  • IIT JAM 2024 की परीक्षा में 100 अंक का वेटेज होगा।
  • IIT JAM 2024 की परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग होगी, जो सेक्शन A में 1/3 और सेक्शन B में 2/3 होगी। सेक्शन C में कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं होगी।
  • IIT JAM 2024 की परीक्षा में प्रश्न हिंदी और अंग्रेज़ी दोनों भाषाओं में होंगे।
  • IIT JAM 2024 के प्रत्येक सेक्शन का संक्षिप्त विवरण निम्नलिखित है:

Section A: Multiple Choice Questions (MCQs)

  • सेक्शन A में 30 प्रश्न होंगे, जो 10 प्रश्न 1 अंक के, और 20 प्रश्न 2 अंक के होंगे।
  • सेक्शन A में प्रत्येक प्रश्न में 4 विकल्प होंगे, जिनमें से सिर्फ एक सही होगा।
  • सेक्शन A में प्रत्येक प्रश्न का सही उत्तर चुनना होगा।
  • सेक्शन A में प्रत्येक प्रश्न के लिए 1/3 (1-मार्क) या 2/3 (2-मार्क) नकारात्‍मक अंक होंगे, अगर सही उत्‍तर का चुनाव नहीं किया जाए, या 2 से ज़्‍यादा उत्‍तरों का चुनाव किया जाए।

Section B: Multiple Select Questions (MSQs)

  • सेक्शन B में 10 प्रश्‍न होंगे, जो 2 अंक के होंगे।
  • सेक्शन B में प्रत्येक प्रश्‍न में 4 विकल्प होंगे, जिनमें से एक या अधिक सही हो सकते हैं।
  • सेक्शन B में प्रत्येक प्रश्‍न के लिए सभी सही उत्‍तरों का चुनाव करना होगा।
  • सेक्शन B में प्रत्येक प्रश्‍न के लिए 2/3 नकारात्‍मक अंक होंगे, अगर सही उत्‍तरों का चुनाव नहीं किया जाए, या कोई गलत उत्‍तर का चुनाव किया जाए।

Section C: Numerical Answer Type (NAT) Questions

  • सेक्शन C में 20 प्रश्‍न होंगे, जो 10 प्रश्‍न 1 अंक के, और 10 प्रश्‍न 2 अंक के होंगे।
  • सेक्शन C में प्रत्येक प्रश्‍न का सही उत्‍तर संख्‍या होगा, जिसे Virtual Keyboard के माध्यम से Enter करना होगा।
  • सेक्शन C में प्रत्येक प्रश्‍न के लिए कोई नकारात्‍मक अंक नहीं होंगे।

IIT JAM 2024: Exam Preparation Tips

IIT JAM 2024 की परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए, उम्मीदवारों को निम्नलिखित परीक्षा की तैयारी के टिप्स का पालन करना चाहिए:

  • Syllabus and Exam Pattern: परीक्षा की तैयारी करने से पहले, उम्मीदवारों को परीक्षा के सिलेबस और पैटर्न को अच्छी तरह से समझना चाहिए। सिलेबस में, प्रत्येक सेक्शन में पूछे जाने वाले विषयों की सूची होती है, जिनकी परीक्षा में प्रश्नोत्तरी होती है। पैटर्न में, परीक्षा का मोड, समय, प्रश्नों की संख्या, प्रकार, अंकन, नकारात्‍मक मार्किंग, भाषा, etc. की जानकारी होती है।
  • Study Material: परीक्षा की तैयारी के लिए, उम्मीदवारों को प्रमाणित और प्रतिष्ठित स्‍तुदि मैटेरियल का उपयोग करना चाहिए। स्‍तुदि मैटेरियल में, NCERT Books, Reference Books, Previous Year Papers, Mock Tests, Online Courses, etc. शामिल हो सकते हैं।
  • Time Management: परीक्षा की तैयारी के दौरान, उम्मीदवारों को समय प्रबंधन का ध्यान रखना चाहिए। समय प्रबंधन में, उम्मीदवारों को अपने पढ़ाई के लिए एक समय-सारिणी बनानी चाहिए, जिसमें वे प्रत्येक सेक्शन के लिए समान और पर्याप्त समय निर्धारित करें। समय-सारिणी में, उम्मीदवारों को पढ़ाई, संशोधन, प्रैक्टिस, समीक्षा, आराम और मनोरंजन के लिए समय शामिल करना चाहिए।
  • Revision and Practice: परीक्षा की तैयारी में, संशोधन और प्रैक्टिस का महत्‍वपूर्ण भूमिका होता है। संशोधन में, उम्मीदवारों को पढ़े हुए कॉन्‍सेप्‍ट्‍स, सूत्र, प्रतिक्रिया, etc. को नियमित और लंबे समय तक याद करना होता है। प्रैक्टिस में, उम्मीदवारों को प्रत्येक सेक्शन के लिए हल किए हुए प्रश्‍न, पिछले साल के पेपर, मॉक टेस्‍ट्‍स, etc. को हल करना होता है।
  • Mock Tests and Analysis: परीक्षा से पहले, उम्मीदवारों को मॉक टेस्‍ट्‍स 2024 का नियमित रूप से प्रयोग करना चाहिए। मॉक टेस्‍ट्‍स में, उम्मीदवारों को अपनी तैयारी, कम्‍जोरियाँ, त्रुटियाँ, etc. का विश्‍लेषण करना होता है, और अपनी सुधार के लिए सुझाव प्राप्त करना होता है।

IIT से M.Sc हेतु एडमिशन शुल्क

  • IIT में M.Sc Program का एडमिशन शुल्क विभिन्न IITs के अनुसार थोड़ा अलग हो सकता है। लेकिन सामान्यतः, IIT में M.Sc Program का एडमिशन शुल्क 2 सेमेस्टर के लिए 44,300 रुपए होता है।
  • IIT में M.Sc Program का एडमिशन शुल्क में tuition fees, hostel fees, mess charges, library fees, medical fees, gymkhana fees, student welfare fund, etc. शामिल होते हैं।
  • IIT में M.Sc Program का एडमिशन शुल्क online mode में SBI Collect portal के माध्यम से pay करना होता है।
  • IIT में M.Sc Program के लिए SC/ST/PwD candidates को tuition fees से exemption मिलता है।
  • IIT में M.Sc Program के लिए economically weaker section (EWS) candidates को tuition fees में 2/3rd concession मिलता है।
  • IIT में M.Sc Program के लिए family income less than Rs. 1 lakh per annum candidates को tuition fees में full remission मिलता है।
  • IIT में M.Sc Program के लिए family income between Rs. 1 lakh and Rs. 5 lakh per annum candidates को tuition fees में 2/3rd remission मिलता है।

IIT से M.Sc Program हेतु स्कॉलरशिप की सुविधा

आईआईटी एमएससी छात्रों के लिए उनकी योग्यता, श्रेणी, आय और पाठ्यक्रम के आधार पर विभिन्न प्रकार की छात्रवृत्तियां उपलब्ध हैं। कुछ छात्रवृत्तियाँ हैं:

  • Merit-cum-Means Scholarship
  • NBHM (National Board of Higher Mathematics) Scholarship
  • DBT (Department of Biotechnology) Scholarship
  • M.Sc.-Ph.D. (Dual Degree) Scholarship
  • Facilities of free messing
  • Scholarship for Academic Excellence
  • Satyaram Scholarships
  • DBT (Department of Biotechnology) Scholarship

IITs में M.Sc करने के फ़ायदे

IITs में M.Sc करने के फ़ायदे बहुत सारे हैं. कुछ फ़ायदे यह हैं:

  • IITs में M.Sc करने से आपका resume और profile बहुत strong हो जाता है. IITs से M.Sc करने वाले students को industry में, academia में, research field में, government sector में, private sector में, national aur international level पर preference मिलती है.
  • IITs में M.Sc करने से आपको अपने subject में बहुत depth aur clarity मिलती है. IITs में M.Sc courses updated, relevant, advanced aur interdisciplinary होते हैं. IITs में M.Sc courses practical oriented, research based aur project based होते हैं. IITs में M.Sc courses flexible aur customizable होते हैं.
  • IITs में M.Sc करने से आपको अपने विषय के विशेषज्ञों से पढने और शोध करने का मौका मिलता है। आईआईटी के संकाय सदस्य अत्यधिक योग्य, अनुभवी और प्रतिष्ठित होते हैं। आईआईटी के संकाय सदस्य अपने क्षेत्र में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान रखते हैं। आईआईटी के faculty members छात्रों को मार्गदर्शन (mentorship), guidance aur समर्थन (support) देते हैं।
  • IITs में M.Sc करने से आपको बहुत सारे करियर विकल्प खुल जाते हैं। आप चाहे तो आगे पीएचडी कर सकते हैं, या उद्योग में नौकरी कर सकते हैं, या शिक्षण या अनुसंधान क्षेत्र में जा सकते हैं। आप अपनी रुचि और योग्यता के अनुसार करियर चुन सकते हैं।
  • IITs में M.Sc करने से आपको बहुत सारी स्कॉलरशिप और वित्तीय सहायता मिलती है। आपको अपनी फीस और रहने का खर्च सरकारी और निजी स्रोतों से मिल सकता है। आपको शिक्षण सहायता, अनुसंधान सहायता, योग्यता-सह-साधन (merit-cum-means) छात्रवृत्ति, संस्थान छात्रवृत्ति जैसी योजनाओं का लाभ मिल सकता है।

M.Sc. के बाद करियर ऑप्शन / job options

M.Sc के बाद आपके पास विभिन्न क्षेत्रों में करियर बनाने के लिए कई विकल्प उपलब्ध हैं। आपका करियर option आपके स्किल्स, प्रैक्टिकल एक्सपीरियंस, स्पेशलाइजेशन और इंडस्ट्री की मांग पर निर्भर करता है। M.Sc के बाद कुछ प्रमुख करियर options यह हैं:

  • Teaching: M.Sc के बाद आपको स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी, कोचिंग सेंटर, ऑनलाइन प्लेटफॉर्म, etc. में teaching job मिल सकती है। Teaching job में आपको subject knowledge, communication skills, presentation skills, patience, creativity, etc. की ज़रूरत होती है।
  • Research: M.Sc के बाद आपको research job मिल सकती है। Research job में आपको research institutes, laboratories, industries, government organisations, NGOs, etc. में research projects पर काम करना होता है।
  • Analytic Jobs: Analyst job में आपको financial firms, consulting firms, market research firms, IT firms, etc. में data analysis, statistical analysis, business analysis, etc. पर काम करना होता है।
  • Consultant: M.Sc के बाद आपको consultant job मिल सकती है। Consultant job में आपको environmental firms, healthcare firms, biotechnology firms, pharmaceutical firms, etc. में clients को अपने subject से related advice, solutions, recommendations, etc. देना होता है।
  • Writer: M.Sc के बाद आपको writer job मिल सकती है। Writer job में आपको publishing houses, magazines, newspapers, websites, blogs, etc. में अपने subject से related articles, books, reports, reviews, etc. लिखना होता है।

यह कुछ M.Sc के बाद के करियर options हैं। इनके अलावा भी आपको M.Sc के बाद कई और करियर options मिल सकते हैं। आपका करियर option आपके interest, passion, skills aur qualification पर depend करता है।

M.Sc के बाद आपको competitive exams जैसे NET, GATE, CSIR-UGC NET, ICMR-JRF, DBT-JRF etc. में participate करने का भी मौका मिलता है। M.Sc के बाद further studies करने का भी option choose कर सकते हैं।

M.Sc के बाद further studies करने के options में PhD (Doctor of Philosophy), M.Phil (Master of Philosophy), MBA (Master of Business Administration), PG Diploma (Post Graduate Diploma) etc. होते हैं।

FAQs : Frequently Asked Question

IIT JAM kya hai ?

IIT JAM M.Sc के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा है। ये एक राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा है जो आईआईटी और आईआईएससी में पीजी पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश देती है। JAM परीक्षा हर साल फरवरी में आयोजित की जाती है।

B.Sc के बाद IIT में एडमिशन कैसे लें?

B.Sc. पास-आउट स्टूडेंट्स IITs में M.Sc. प्रोग्राम में प्रवेश पाने के लिए JAM (Joint Admission Test for Masters) प्रवेश परीक्षा (Entrance Exams) को क्वालीफाई करना होता है।

IIT JAM में कुल कितने पेपर शामिल है?

Total 7 Test Papers:
Biotechnology (BT)
Chemistry (CY)
Economics (EN)
Geology (GG)
Mathematical Statistics (MS)
Mathematics (MA)
Physics (PH)

आईआईटी से एमएससी के लिए पात्रता मानदंड क्या है?

You must have a B.Sc degree to related subject with 55% mark. You must have qualified IIT JAM entrance exam.

JAM का एक्जाम किस महीने में होता है?

JAM परीक्षा हर साल फरवरी में आयोजित की जाती है।

आईआईटी एमएससी में कितना एडमिशन शुल्क होता है?

IIT में M.Sc Program का एडमिशन शुल्क विभिन्न IITs के अनुसार थोड़ा अलग हो सकता है। लेकिन सामान्यतः, IIT में M.Sc Program का एडमिशन शुल्क 2 सेमेस्टर के लिए 44,300 रुपए होता है। जिसमें tuition fees, hostel fees, mess charges, library fees, medical fees, gymkhana fees, student welfare fund, etc. शामिल होते हैं।

Conclusion : आईआईटी से एमएससी (M.Sc)

दोस्तों शायद अब आप समझ ही गए होंगे कि सिर्फ JEE Advanced ही एकमात्र विकल्प नहीं है IITs में एडमिशन लेने का बल्कि JAM के माध्यम से भी आईआईटी मे एडमिशन लिया जा सकता है बस फर्क इतना है की JAM के द्वारा आप मास्टर की डिग्री हासिल करते है। उम्मीद है की आप IIT JAM क्या है? कैसे B.एससी के बाद आईआईटी में M.Sc किया जा सकता है, eligibility criteria इत्यादि को समझ गए होंगे। यदि फिर भी कोई doubt रह गया है तो अवश्य कमेंट करें तथा ydi Post उपयोगी है तो अपने दोस्तों से शेयर करें।

क्या आप भी 2024 में IIT में M.Sc लेने की सोच रहें हैं तो आपके लिए यह सुनहरा मौका है, IIT JAM 2024 का आनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू है, जल्द ही आवेदन करें और आईआईटी जेएएम की अच्छे से तैयारी शुरू कर दे , फरवरी में एग्जाम होगा। बेस्ट ऑफ़ लक फॉर योर एग्जाम

धन्यवाद!

Leave a Comment